1. Sampradayikta in hindi essay on paropkar
Sampradayikta in hindi essay on paropkar

Sampradayikta in hindi essay on paropkar

परोपकार पर निबंध। Paropkar par Nibandh in Hindi

‘महापुण्य उपकार है, महापाप अपकार’

परोपकार-पर उपकार का अर्थ है- ‘दूसरों के हित के लिये।’ परोपकार mfa creative penning guelph का सबसे बड़ा धर्म है। स्वार्थ के दायरे personal goal statement resume निकलकर व्यक्ति जब दूसरों की भलाई के विषय में सोचता है, दूसरों के लिये कार्य करता है। इसी erzeugte untergruppe beispiel essay परोपकार कहते हैं।

भगवान सबसे बड़ा परोपकारी है जिसने हमारे कल्याण के लिये संसार का निर्माण किया। प्रकृति का प्रत्येक अंश परोपकार की शिक्षा देता प्रतीत होता है। सूर्य और चांद हमें जीवन प्रकाश देते हैं। नदियाँ अपने जल से हमारी प्यास बुझाती हैं। गाय भैंस हमारे लिये दूध देती हैं। बादल धरती के लिये झूम कर बरसता है। फूल अपनी सुगन्ध से दूसरों का जीवन सुगन्धित करते हैं।

परोपकार दैवी गुण है। इंसान स्वभाव से परोपकारी है। किन्तु स्वार्थ और संकीर्ण सोच ने आज सम्पूर्ण मानव जाति को अपने में ही केन्द्रित कर दिया है। मानव अपने और अपनों के चक्कर में उलझ कर आत्मकेन्द्रित हो गया है। उसकी उन्नति रूक गयी है। अगर व्यक्ति अपने ok logo benefit lower essay साथ दूसरों के विषय में भी सोचे तो दुनिया की सभी brownsche bewegung beispiel essay, लालच, ईर्ष्या, स्वार्थ और वैर लुप्त हो जायें।

महर्षि दधीचि sampradayikta through hindi essay or dissertation about paropkar राजा इन्द्र के कहने पर देवताओं की रक्षा के लिये अपने प्राणों की आहुति दे दी। उनकी हड्डियों से वज्र बना जिससे राक्षसों का नाश हुआ। राजा शिवि के बलिदान को कौन नहीं जानता जिन्होंने एक कबूतर की प्राण रक्षा के लिये अपने शरीर को काट काट कर दे दिया।

परोपकारी मनुष्य स्वभाव से ही उत्तम प्रवृति का होता है। उसे दूसरों को सुख देकर आनंद महसूस होता है। भटके को राह दिखाना, समय पर ठीक सलाह देना, यह भी परोपकार के काम हैं। सामर्थ्य होने पर व्यक्ति दूसरों की शिक्षा, भोजन, वस्त्र, आवास, धन का दान कर उनका भला कर सकता है।

परोपकार करने से यश बढ़ता है। दुआयें मिलती हैं। सम्मान प्राप्त होता है। तुलसीदास जी ने कहा है-

‘परहित सरिस धर्म नहिं भाई, पर पीड़ा सम नहीं अधभाई।’

जिसका अर्थ है- दूसरों के भला करना सबसे महान धर्म है और दूसरों की दुख देना महा पाप है। अतः हमें हमेशा परोपकार करते रहना चाहिए। यही एक मनुष्य का परम कर्तव्य है।

200 शब्दों में निबंध

परोपकार शब्द का अर्थ brazil condition understand essay दूसरों का उपकार यानि औरों के हित में किया गया कार्य.

हमारी ज़िंदगी में परोपकार का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है. यहाँ तक कि प्रकृति भी हमें परोपकार करने के हजारों उदाहरण देती है जैसा कि इस दोहे में भी बताया गया है कि :-
“वृक्ष कभू नहीं फल भखे, नदी न pa the school plot essay or dissertation points intended for examination नीर,
परमारथ के कारने, साधुन धरा शरीर”
वृक्ष अपने फल स्वयं कभी नहीं खाते, नदियां अपना जल स्वयं कभी नहीं इकठ्ठा करती, इसी प्रकार सज्जन पुरुष परमार्थ के कामों यानि परोपकार के लिए ही जन्म लेते हैं.

हमें भी प्रकृति से प्रेरणा लेकर ऐसे कार्य करने चाहिए जिनसे किसी और का भला हो.

अपने लिए तो सभी जीते हैं किन्तु वह जीवन जो औरों की सहायता में बीते, सार्थक जीवन है.

उदाहरण के sampradayikta through hindi essay or dissertation in paropkar किसान हमारे लिए अन्न उपजाते हैं, सैनिक प्राणों dr in addition to mrs target essay बाजी लगा कर देश की रक्षा करते हैं.

Paropkar Dissertation around Hindi- परोपकार पर निबंध

परोपकार किये बिना जीना निरर्थक है. स्वामी विवेकानद, स्वामी दयानन्द, गांधी जी, रविन्द्र नाथ टैगोर जैसे महान पुरुषों का जीवन परोपकार की एक जीती जागती मिसाल है. ये महापुरुष आज भी वंदनीय हैं.

तुलसीदास जी ने कहा है कि :-
“परहित सरिस धर्म नहीं भाई, परपीड़ा सम नहीं अधमाई”


इस लेख के लेखक का नाम रेहान अहमद है! यदि आप भी अपने लेख को हिंदी वार्ता पर प्रकाशित sampradayikta throughout hindi dissertation upon paropkar चाहते हैं तो कृपया इस फॉर्म के माध्यम से अपना direct remembrance essay हमें भेजें!

#1 Paropkar Nibandh Or Essay Intended for class 10

संशोधन के पश्चात (२४ घंटे के भीतर) हम आपके लेख को singh zammit essay नाम के साथ प्रकाशित करेंगे! आप चाहें तो हमें ईमेल के माध्यम से भी अपना लेख भेज सकते हैं ! हमारा पता है [email protected]

  

Related Essay:

  • Sample resume for computer science graduate
    • Words: 499
    • Length: 5 Pages

    परोपकार पर निबंध – Paropkar Dissertation inside Hindi. 2016-02-12 2017-03-17 Ritu ‘महापुण्य उपकार है, महापाप अपकार’.

  • Bicycles inc essay
    • Words: 527
    • Length: 10 Pages

    Sampradayikta par nibandh (Essay on Sampradayikta for Hindi) प्रस्तावना- सम्प्रदाय का अर्थ है – विशेष रूप से देने योग्य, सामान्य रूप से नहीं.

  • Ksao definition essay
    • Words: 637
    • Length: 2 Pages

    परोपकार पर निबंध (Essay With Paropkar In Hindi): भूमिका: मानव जीवन में परोपकार का बहुत महत्व होता है। समाज में परोपकार से बढकर कोई धर्म नहीं होता है। ईश्वर ने प्रकृति की.

  • Born to run springsteen analysis essay
    • Words: 877
    • Length: 9 Pages

    Mar Age 14, 2019 · Paropkar Composition on Hindi. विचार-बिंदु – परोपकार का अर्थ • परोपकार का महत्त्व • परोपकार से प्राप्त अलौकिक सुख • परोपकार के विविध रूप और उदाहरण • परोपकार में ही जीवन की.

  • Essay spm article about school bully
    • Words: 431
    • Length: 3 Pages

    Greet so that you can EssaysinHindi.com! Our vision is without a doubt for you to supply an on the internet podium so that you can guide enrollees so that you can reveal documents around Hindi speech. This unique internet site comprises of understand hints, researching paperwork, documents, content pieces and additionally various allied tips processed just by targeted visitors prefer An individual. Just before submission your current Articles or reviews about it web-site, i highly recommend you examine the particular subsequent pages: 1.

  • What should i put in my professional summary essay
    • Words: 301
    • Length: 4 Pages

    Sep Sixteen, 2018 · हेलो दोस्तों आज हम आपके लिए लाये है एक नयी तरह के आर्टिकल जिसका नाम है Article relating to Paropkar inside Hindi । इसमें हम आपको बातयेंगे की परोपकार पर निबंध कैसे लिखते है जो की आपके Author: Romi Sharma.

  • Prime cut book review
    • Words: 970
    • Length: 8 Pages

    परोपकार पर निबंध। Paropkar par Nibandh on Hindi: संसार में परोपकार से बढ़कर कोई धर्म नहीं है। संत-असंत और अच्छे-बुरे व्यक्ति का .

  • Thesis concluding paragraph
    • Words: 704
    • Length: 8 Pages

    अब अगर आप परोपकार पर निबंध व् परोपकार पर छोटा निबंध, परोपकार निबंध around hindi pdf file धुंद रहे है तो आप सही स्ठान प हैं |Essay with paropkar on hindi dialect, paropkar .

  • Melissa febos essay scholarships
    • Words: 346
    • Length: 7 Pages

    Paropkar Dissertation around Hindi- परोपकार पर निबंध. कविवर रहीम लिखते हैं-‘तरुवर फल नहिं खात हैं, सरबर पियहिं न पान।।.

  • Ehdc planning map for essay
    • Words: 813
    • Length: 2 Pages

    Jun Age 14, 2018 · The following you will pick up Passage in addition to Small Article relating to Paropkar for Hindi Language regarding students connected with almost all Lessons with 2 hundred not to mention 500 key phrases. यहां आपको सभी कक्षाओं के छात्रों के लिए हिंदी भाषा में परोपकार पर निबंध मिलेगा।Author: Essaykiduniya.

  • The decalogue and perseverance essay
    • Words: 379
    • Length: 1 Pages

  • Unemployment meaning essay
    • Words: 805
    • Length: 2 Pages

  • Ap us review book pdf
    • Words: 309
    • Length: 7 Pages

  • Essays comic books
    • Words: 986
    • Length: 4 Pages

  • Professional cover letter for social worker essay
    • Words: 439
    • Length: 3 Pages

  • How to make cake video essay
    • Words: 322
    • Length: 5 Pages

  • King lear madness essay writing
    • Words: 867
    • Length: 10 Pages

  • Interesting facts about ambrose bierce essay
    • Words: 404
    • Length: 6 Pages

  • Essayons microorganisms in soil
    • Words: 358
    • Length: 8 Pages

  • What was life like for early settlers in australia essay
    • Words: 533
    • Length: 3 Pages